Visitor's Counter

You Tube

Tuesday, October 9, 2018

 

जय श्री माताजी!
समस्त विश्व के सहज योगी स्नेहीजनों को नवरात्री के संध्या कालीन ऑनलाइन ध्यान कार्यक्रम में परम पूज्य श्री माता जी के चरण कमलों के सान्निध्य में सम्मिलित होने के लिए हार्दिक निमंत्रण। दि. 11,12 व 15 से 18 अक्टूबर 2018, शाम 7 से 8 बजे। 19 अक्टूबर 2018, दशहरा, शुक्रवार, शाम 5 से 8 बजे। 

 .."सर्वप्रथम और सबसे महत्वपूर्ण है ध्यान करना और फोटो से चैतन्य की अनुभूति लेना व् स्वयं का आकलन करना l अगर आप एक साक्षात्कारी आत्मा हैं तो क्या आप वाकई परमात्मा की अनुकम्पा प्राप्त साक्षात्कारी आत्मा हैं या नहीं? क्या आप गहरे हैं या नहीं? क्या आपके वाइब्रेशंस काम कर रहे हैं या नहीं? यदि आप इसे देख सकते हैं तो आप महसूस करेंगे कि सभी महत्वाकांक्षाओं से अधिक, सबसे ऊँची दशा है एक समर्पित, विवेकशील व्यक्तित्व बनना। यही वह है जो आपको सभी प्रकार की चीजों के लिए आनंद, आनंद देगा। नहीं तो यह सिर्फ एक इंसान है जो अन्य दूसरों के जैसा चल फिर रहे हैं।.." ~ परम पूज्य श्री माताजी, नवरात्रि पूजा, 27-10-2002, लॉस एंजलिस, अमेरिका 
 ☆ ऑनलाइन ध्यान की तिथि: 11,12,15,16,17,18 अक्टूबर 2018☆
 ☆ समय: सायं 7 बजे से 8 बजे तक☆ 
 ☆ 19 अक्टूबर 2018, दशहरा, शुक्रवार, शाम 5 से 8 बजे।☆ 

Jai Shri Mataji!

Invitation for Navratri's collective online meditation from India on 11,12,15,16,17,18th October 2018, 7 pm to 8 pm and Dussehra Day, 19th October 2018, 5 pm to 8pm (India Time, IST)

Please do join for Navratri's collective online meditation program on: 
 ☆Date- 11,12,15,16,17 & 18th Octobe 2018☆ 
 ☆Timing - 7 pm to 8 pm (India Time, IST)☆ and
 ☆Dussehra Day, 19th October2018, Friday, 5 pm to 8 pm☆ 

.."First and foremost thing is meditation and feeling your vibrations on the photograph and facing yourself clearly. If you are a realised soul, are you really a goodrealised soul or not? Are you deep or not? Are your vibrations working out or not? If you can see that then you will realise that greater than all ambitions, the greatest is to become a devoted, wise personality. That is the one that will give you the joy, joy for all kinds of things. Otherwise it is just a human being like others going about.".. ~H.H. Shri Mataji, Navratri Puja, 27-10-2002, Los Angeles, USA 

Friday, September 7, 2018

..."वह वह हैं जो आपको श्रद्धा देती हैं।  तो, आपको उनका गुण गान करना है, आपको उनके चरणों पर शीश नवना है, आपको उनकी पूजा करनी है और उनसे माँगना है: "हे माँ, हमें वह श्रद्धा दो" और, इस श्रद्धा के साथ, आप आश्चर्य करेंगे, कोई भी व्यक्ति इस श्रद्धा के साथ माँगता है "माँ, कृपया, ऐसा करो!" तो वह घटित हो जाता है, वह  स्वतः ही हो जाता है।".
~ परम पूज्य श्री माताजी, नवरात्रि पूजा, 8-10-2000, कबेला

जय श्री माताजी

परम पूज्य श्री माताजी श्री निर्मला देवी की असीम कृपा से सहज योग आश्रम, मंडोली में  रविवार, दिनांक 9 सितंबर 2018 को सेमिनार/ वर्कशॉप का आयोजन किया जा रहा। सभी सहज् योगी भाई- बहन सादर आमंत्रित हैं ।

कार्यक्रम विवरण:-

🌸 दिनांक: रविवार, 9 सितंबर         
                   2018
🌸  समय: सुबह 9.30 बजे से
🌸  लंच :  दोपहर 2 बजे से                                     

सहज योग आश्रम - मंडोली
मंडोली रोड/ सेवा धाम रोड, नन्द नगरी डीटीसी बस डिपो के सामने, दिल्ली-110093
M- 099116 35604

https://maps.google.com/?cid=5606996244874699155

निकट मेट्रो स्टेशन: आनंद विहार/  दिलशाद गार्डन। वहाँ से डीटीसी बस न. - 212, 165 या आॅटो/टेक्सी ।

(अन्य राज्यों व देशों के सहज योगी भाई बहनों के लिए आॅन लाइन प्रसारण लिंकः https://atyourlotusfeetmother.blogspot.com)


Friday, August 17, 2018




समस्त विश्व के सहज योगी स्नेहीजनों को ऑनलाइन ध्यान कार्यक्रम में परम पूज्य श्री माता जी के चरण कमलों के सान्निध्य में सम्मिलित होने के लिए हार्दिक निमंत्रण। दि. 19 अगस्त 2018, रविवार, शाम 5 से 8 बजे।

हे श्री आदि शक्ति आपके श्री चरणों के सम्मुख हम सभी आपके बच्चे कामना अभिव्यक्त करते हैं कि आपकी अनुकम्पा से हमारे भीतर से समस्त अहम भाव दूर हो जाए। हम सभी आपके सूक्ष्म अंग प्रत्यगं है यह सत्य हमारे भीतर समा जाए ताकि आपसे मिलने वाला आलोकिक आनदं हमारे शरीर के कण कण में गूँजन कर इस जीवन को सुदंर मधुर संगीत से परिपूर्ण कर समस्त मानव जाति को उल्लासित कर दे व शेष विश्व को प्रकाशित कर दे। 

जय श्री माता जी
समस्त विश्व के प्रिय सहज योगी जन, 
परम पूज्य श्री माता जी, हमारी सर्वशक्तिमान पावनी माँ, ने अपने सान्निध्य से निर्विचारिता की स्थिती के दिव्य आलोकिक आनंद को पाने के लिए ध्यान मार्ग का आनदंदायी माध्यम बनाया है। यह उनका हम सभी के लिए विशिष्ठ आशिर्वाद है कि हम उनकी आलोकिक शक्तियों से स्वयम को अपने दैनिक जीवन के अवरोधों से मुक्त कर पोषित कर सकते हैं।

श्री कृष्ण पूजा से पूर्व आईऐ हम सभी आनलाइन ध्यान के माध्यम से एकत्रित हो कर परम पूज्य श्री माता जी के प्रति सम्पूर्ण समर्पण प्रगट करें व श्री चरणों में प्रार्थनाएँ अर्पित करें।

☆ ऑनलाइन ध्यान की तिथि: रविवार, 19 अगस्त 2018 ☆

☆ समय: सायं 5 बजे से 8 बजे तक☆

Invitation for world collective online meditation from India on Sunday, 19th August 2018, 5 pm to 8 pm (India Time, IST)

'O' Shri Adi Shakti we pray to YOU
“May our ‘I consciousness’ fade away. May the truth that all of us are a small part of your being be assimilated within us, so that your Divine bliss world resonate every particle of our bodies and this life would be filled with beautiful melodies enchanting the whole of mankind, and showing the light to the rest of the world".

Jai Shri Mataji

Dear all Yogis of the world,

H.H. Shri Mataji, our almighty Holy Mother has created blossoming blissful medium of collective Meditation for us to enjoy the divine state of thoughtless awareness when SHE takes us into complete oneness with HER. It is HER most coveted Blessing to us to refresh our whole inner being with HER divine energies whenever we find ourselves bogged down with burdens of our daily life.

Before we proceed to celebrate Shri Krishna Puja very soon let everyone from all countries of the world meet together online to meditate, offer prayers and surrender completely at HER Lotus Feet. 

Please do join for worldwide collective online meditation program on

Date- Sunday, 19th August 2018.

Timing - 5 pm to 8 pm (India Time, IST).

Link to find corresponding time in your country - https://timeanddate.com/s/3kjt




Wednesday, July 25, 2018

Jai Shri Mataji!


Pram Pujya Shri Mataji's Grace and Blessing tremendously nourished all of us with Bliss of deep thoughtlessness in Meditation Program, Andhra Pradesh State Seminar at Tenali on 13-15 July 2018.

Sunday, June 10, 2018

卐 ध्यान कार्यक्रम शुभ संदेश व आमंत्रण 卐

"जब मेरा प्रेम आपके अंदर से बह कर मुझ तक वापिस लौट कर आता है तो मैं बहुत ही खुश हो जाती हूँ। यह मेरे लिए एक बहुत ही सुंदर अनुभव होता है।"
~प. पू. श्री माता जी

श्री माता जी !
हम आपके बच्चे, आपका पूर्ण हृदय से आभार व्यक्त करते हुए स्वयं को अत्यन्त आशीर्वादित  एवं सौभाग्यशाली मानते हैं कि आपने, अपनी पूर्ण अनुकम्पा में, हमें सामूहिक ध्यान के माध्यम से दिव्य निर्मल आनंद एवं प्रेम ग्रहण करने के शुभ अवसर प्रदान किये हैं।

सम्पूर्ण विश्व के सहजयोगी भाइयों एवं बहनों,
आईये, हम सब मिलकर  आदिशक्ति श्री माता जी के दिव्य श्री चरणों पर अपने श्रद्धा की सुगंध से परिपूर्ण हृदय समर्पित करते हुए निम्नलिखित सामुहिक ध्यान कार्यक्रमों के माध्यम से श्री आदिशक्ति माँ के आशीर्वाद प्राप्त करें...

1. उत्तराखंड में सेमिनार एवं  श्री आदिशक्ति पूजा, जिसका आयोजन नैशनल ट्रस्ट द्वारा रामनगर में 14-17 जून तक किया गया है, जिसमें 15 और 16 जून को ध्यान सत्र, सांय 4:30 से 6 बजे

2. निर्मल दरबार, दिल्ली, 2 जुलाई, समय बाद में बताया जाएगा

3. आन्ध्र प्रदेश सहज सेमिनार, तैनाली, 2018, जुलाई 13, 14 और 15

आॅनलाइन मेडिटेशन लिंक:
https://atyourlotusfeetmother.blogspot.com

कृपया नोट करें :
इन ध्यान कार्यक्रमों के प्रसारण का समय भारतीय समयानुसार (आई.एस.टी.) है और स्थानीय परिस्थितिवश परिवर्तित हो सकता है। प्रसारण और उसका स्तर स्थानीय इन्टरनेट की गति पर निर्भर होगा। प्रसारण हिंदी/ स्थानीय भाषा में रहेगा, सार बीच बीच में अंग्रेजी में भी किया जायेगा।
जय श्री माता जी

卐 Welcome 卐

"When my love passes through you and comes back to me as love, I enjoy it. It is such a beautiful experience."
~H.H.Shri Mataji

Shri Mataji !
we your children feel extremely Blessed and fortunate to express our profound gratitude to YOU, from the core of our hearts, for giving us so many opportunities to meditate collectively and feel the tremendous Bliss and Divine love, by YOUR Grace.

Dear Sahaja Yogi Brothers and sisters of the world,
Let us all offer our hearts filled with fragrance of awe at the Lotus Feet of the Shri Adi Shakti and enjoy HER greatest Blessing of Sahaja Collectivity with participation of everyone in below listed programmes, wherever possible, or joining online:

01. Uttarakhand Seminar and Shri Adi Shakti Puja organised by National Trust at Ramnagar 14th to 17th June. Meditation sessions on 15th, 16th June 2018, 4.30 pm to 6 pm.

02. Nirmal Darbar, Delhi , 2nd July 2018. Timing to be announced.

03. A.P. State Seminar, Tenali, July  13,14 & 15.

Link for joining online: https://atyourlotusfeetmother.blogspot.com

Please note: All timings are as per Indian Standard Time (IST) and are flexible according to local schedule. The online transmission and it's quality is subject to the net speed at the venue. The language of the programmes would be Hindi/ Regional language, gist of which will also be given in English in between.

Jai Shri Mataji

Wednesday, May 16, 2018

Invitation for world online meditation from India on Sunday, 20th May 2018, 6 pm to 9 pm (India Time).



Jai Shri Mataji!

 “ So there should be no lethargy, as far as meditation is concerned, but joyfully you'll start doing, after some time. You won't be happy if you have not done it. But in the beginning you'll have to goad yourself, and tell yourself that this body has to be cleaned; but more than that body, this mind and intellect, both of them, are to be corrected. To be an instrument of God, you have to be perfect, perfect personality, otherwise we may not be able to communicate the message of Sahaja Yoga in the proper way.”
H.H. Shri Mataji, Bhavsagar Puja, 6th April 1991 - Brisbane

Dear all Brothers and Sisters, 

Within us lies an ocean of Divine peace and Bliss which we can enjoy together by going deep inside us in our meditative state. Let us all collectively meditate online on Sunday, 20th May 2018, 6 pm to 9 pm (India Time). 

Online meditation Date & Time: Sunday, May 20th 2018, 6 pm to 10 pm (India Time). 

Website Link : https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/

 Link to know corresponding time of your city/country: https://timeanddate.com/s/3hkp 

 जय श्री माताजी!
 सहर्ष आमंत्रण विश्व ऑनलाइन ध्यान कार्यक्रम, रविवार, 20 मई 2018 को सांय 6 बजे से रात्रि 9 बजे तक (भारतीय समय).

 " इसलिए जहां तक ध्यान का संबंध है, उसमें कोई आलस्य नहीं होना चाहिए, लेकिन खुशी से आप कुछ समय बाद खुशी करना शुरू कर देंगे। यदि आपने ध्यान नहीं किया है तो आप खुश नहीं होंगे। लेकिन शुरुआत में आपको खुद को अपने को प्रेरित करना होगा, और खुद को बताएं कि इस शरीर को साफ करना है; लेकिन उस शरीर से अधिक, यह दिमाग और बुद्धि, दोनों, को सही किया जाना है। भगवान का एक साधन होने के लिए, आपको परिपूर्ण, पूर्ण व्यक्तित्व होना चाहिए, अन्यथा हम सहज योग के संदेश को उचित तरीके से प्रचार प्रसार करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं। " 
परम पूज्य श्री माताजी, भवसागर पूजा, 6 अप्रैल 1991, ब्रिस्बेन

विश्व के सभी प्रिय भाइयों और बहनों , 
हम सभी के भीतर एक दिव्य शांति और आनंद का महासागर है जिसका आनंद हम अपने अंदर ध्यान में गहरे जाकर ले सकते हैं। आइए रविवार, 20 मई 2018, शाम 6 बजे से रात्रि 9 बजे (भारतीय समय) पर हम सभी सामूहिक रूप से ऑनलाइन ध्यान कार्यक्रम के माध्यम से अपने अंदर की गहराई के अनुभव को परम पूज्य श्री माताजी की कृपा से प्राप्त करें व् उसका आननद लें । 

ऑनलाइन ध्यान कार्यक्रम की तिथि व् समय : रविवार, 20 मई 2018, सांय 6 बजे से रात्रि 9 बजे तक(भारतीय समय ) 

सम्मिलित होने के लिए वेब लिंक: https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/

विदेशी शहर/ देश के इसी समय को जानने के लिए लिंक: https://timeanddate.com/s/3hkp

Sunday, April 29, 2018
















Invitation for Sahastrar Day world online meditation on Friday, 4th May 2018, 7 pm to 10 pm (India Time). 

“ I saw the primordial Kundalini rising like a big furnace, and the furnace was very silent but burning up here as it had, as if you heat up some metal and it has many colors, in the same way the Kundalini showed up like a huge furnace, say, of a, I can say, of a furnace which is like a tunnel. You see, these plants you have for coal burning to create electricity, and it stretched like a telescope one after another it came out tchu, tchu, tchu – like that it came out and the deities came and sat on their seats, on their golden seats and then they lifted the whole of the head like a big dome and opened it, and then this torrential rain completely drenched Me and I started seeing all that and got lost into the joy. I was like an artist seeing its own creation fulfilled; I felt the joy of great fulfillment.” 
H.H. Shri Mataji, Sahastrar Puja, 5th May 1982 - Le Raincy Ashram, Paris, France 

Dear all Brothers and Sisters, 
On the most auspicious occasion of 48th Sahastrar Day let us all gather together online from all parts of the world to meditate and offer our expressions of deepest gratitude at the Lotus Feet of H.H. Shri Mataji for establishing us into HER most beautiful Eternal world of Bliss and Joy which provides us all greatest higher life to live.

Online meditation Date & Time : Friday, May 4th 2018, 7 pm to 10 pm (India Time) Website Link : https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/ 

Link to know corresponding time of your city/country: https://timeanddate.com/s/3h8p 
Jai Shri Mataji 

सहस्त्रार दिवस विश्व ऑनलाइन ध्यान कार्यक्रम, शुक्रवार, 4 मई 2018 को सांय 7 बजे से रात्रि 10 बजे तक (भारतीय समय), हेतु सहर्ष आमंत्रण

"मैंने देखा कि आदि कुंडलिनी एक बड़ी भट्टी की तरह धधकती हुई उठ रही है, और भट्ठी बहुत शांत थी लेकिन इस तरह से जल रही थी जैसे कि आप किसी धातु को गर्म करते हैं तो उसमें कई रंग होते हैं, वैसे ही कुंडलिनी एक विशाल भट्टी की तरह दिखाई दे रही थी, मैं कह सकती हुँ एक सुरंग की तरह है। जैसे कोयला जला कर बिजली बनाने वाले बिजली घर आप अपने आस पास देखते हैं उसी तरह एक दूरबीन की तरह एक दूसरे के अंदर से यह खट, खट,खट से निकला - जैसे ही यह निकला तभी सभी देवता आए और अपने अपने आसनों पर बैठे और फिर उन्होंने पूरे सिर की छतरी को एक बड़े गुंबद की तरह उठा लिया और इसे खोल दिया, और फिर इस भारी बारिश ने मुझे पूरी तरह से भिगो दिया और मैंने उसे देखना शुरू कर दिया और में उसके आनंद में खो गयी l मैं एक कलाकार की तरह थी जो अपनी रचना को पूरा होते हुए देख आनंदित हो रहा था; मुझे एक असीम संतोष प्राप्त होने का आनंद अनुभव हुआ। " 
परम पूज्य श्री माताजी, सहस्त्रार पूजा, 5 मई 1982, पेरिस, फ्रांस 

प्रिय सभी भाइयों और बहनों, 
48 वें सहस्त्रार दिवस के सबसे शुभ अवसर पर आइये हम सभी दुनिया के सभी हिस्सों से ऑनलाइन सामूहिक ध्यान में एकत्रित हो कर परम पूज्य श्री माताजी के चरण कमलों में ह्रदय से अपनी गहन कृतज्ञता समर्पित करते हैं जिनकी असीम कृपा से हम सभी को एक नवीन संसार प्राप्त हुआ जो आनंद व् उल्लास से परिपुर्ण है तथा हमे एक उच्च कोटि का जीवन प्रदान करता है. 

सहस्त्रार दिवस ऑनलाइन ध्यान कार्यक्रम की तिथि व् समय : शुक्रवार, 4 मई 2018, सांय 7 बजे से रात्रि 10 बजे तक (भारतीय समय ) 
सम्मिलित होने के लिए वेब लिंक: https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/ 
विदेशी शहर/ देश के इसी समय को जानने के लिए लिंक: https://timeanddate.com/s/3h8p 

जय श्री माताजी

Sunday, April 1, 2018

7-8 अप्रैल, 2018 को कोझीखोड, केरल में ईस्टर पूजा और ध्यान कार्यक्रम के लिए सादर निमंत्रण


जय श्री माताजी
प्रिय सहज योगी भाईयों और बहनों,
निरानदं की स्थिति में हम उस पूर्ण आनंद को प्राप्त करते हैं जो अत्यंत उल्लासपूर्ण है जिस समय हम श्री माता जी के पावन श्री चरणों को अपने ह्रदय की कोमल पंखुड़ियों में सजों कर उनसे एकाकार होते हैं व परमचैतन्य के सागर मे मिल जाते हैं।

परम पूज्य श्री माताजी ने कृपापूर्वक हमें अपने प्रिय सहज योगी भाईयों बहनों को समस्त विश्व से ईस्टर पूजा और सामूहिक ध्यान कार्यक्रम में कोझीखोड, केरल मे सम्मलित होने के लिए आमंत्रित करने का शुभ अवसर प्रदान किया है। आप सभी की गरिमापूर्ण उपस्थिति आपेक्षित है- दि. 7 अप्रैल, शनिवार और 8 अप्रैल, रविवार, 2018 को कार्यक्रम निम्नानुसार

.. "कभी-कभी लोग मुझसे पूछते हैं," हमें क्या करना है? "आपने बाइबल में यह भी पढ़ा होगा कि ईसा मसीह ने प्रार्थना की और वह प्रार्थना कर रहे थे। उसी तरह, हम कह सकते हैं, हमें ध्यान करना होगा। ध्यान के माध्यम से हम अपनी चेतना में, हमारे नए व्यक्तितव में, हमारे ऊचें एक नये व्यक्तित्व में प्रगति करेंगे। ध्यान ही एकमात्र तरीका है जिसके माध्यम से हम उन्नति कर सकते हैं, और फिर कोई भी आप को नष्ट नहीं कर सकता क्योंकि आप सभी माँ के प्रेम के संरक्षण में आ जाते हैं। आपको चिंता करने की ज़रूरत नहीं है कि कौन आपको नष्ट करेगा, क्या होगा।
-परम पूज्य श्री माताजी, 25-04-1991, ईस्टर पूजा, इस्तानबुल

कार्यक्रम सूची
7 अप्रैल 2018, शनिवार :
• 10 बजे से 1 बजे तक - ध्यान सत्र
•1 बजे से दोपहर 3 बजे - भोजन और विश्राम
• 3 से 3.30 अपराह्न - चाय
• 3.30 बजे से 6.30 बजे - ध्यान सत्र
• 6.30 बजे से शाम 7.30 बजे - विश्राम
• 7.30 बजे से 8.30 बजे –
प. पू. श्री माता जी का अमृत प्रवचन
• 9.00 बजे – रात्रि भोजन

8 अप्रैल 2018, रविवार :
• 6 से 8 बजे तक -सागर समुद्र तट पर सामूहिक
जल क्रिया और जूता पट्टी
• 9 से 12.00 बजे तक - ध्यान सत्र
• 12.00 बजे से 1.30 बजे - भोजन
• दोपहर बाद में- ईस्टर पूजा

स्थान :
"श्री गुजराती विद्यालय"
समुद्री किनारे पर सड़क
कोझीकोड निगम कार्यालय के आगे, कोझिकोड

संपर्क व्यक्ति: 9747389998,9496163018

ऑनलाइन प्रसारण में शामिल होने के लिए वेब लिंक: https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/

विदेशी शहर/ देश के इसी समय को जानने के लिए लिंक: https://timeanddate.com/s/3gdw

सादर,

केरल सामुहिकता

Jai Shri Mataji

Invitation for Easter Puja and Meditation Program at Kozhikhode, Kerala on 7-8 April 2018

Dear Sahaja Yogi Brothers and Sisters,

It is so joyful to be in the state of “Nirananda” – only the joy-absolute joy, when we all are completely drenched in Chaitanya and intensely one with Param Pujya Shri Mataji holding HER Divine Lotus Feet in the delicate petals of our hearts. It is such a deep and most beautiful experience of meditation that helps us all to grow in Sahaja Yoga and channelize this Nirananda all over the world, so much.

Param Pujya Shri Mataji has most graciously granted us a beautiful opportunity to extend our invitation and warm welcome with great Nirmal Love to our Sahaja Yogi Brothers and Sisters from all over the world to join us for Easter Puja and collective Meditation program at Kozhikhode, Kerala on 7th April, Saturday & 8th April, Sunday, 2018 as per below given schedule.

"Sometimes people ask Me, "What do we have to do?" You must have also read in the Bible that Christ prayed and He was praying. In the same way, we can say, we have to meditate. Through meditation we'll grow in our awareness, in our new personality, in our strengthened personality. Meditation is the only way we can grow, and then no one can destroy you because you are all protected by the divine love. You don't have to worry as to who will destroy you, what will happen. --H.H.Shri Mataji, 25-04-1991, Easter Puja, Istanbul
Program Schedule
7th April 2018, Saturday:
•10 am to 1 pm - Meditation session
•1 pm to 3 pm - Lunch and rest break
•3 to 3.30 pm – Tea
•3.30 pm to 6.30 pm – Post Lunch Meditation session
•6.30 pm to 7.30 pm - Break
•7.30 pm to 8.30 pm – Mother’s speech
•9.00 pm – Dinner

8th April 2018, Sunday:

•6 am to 8 am – Collective Foot soaking and Shoe beating at Sea Beach.
•9 am to 12.00 pm- Meditation session
•12.00 pm to 1.30 pm- Lunch Break
•2 pm onward- Easter Puja.

Venue :
"Sri Gujarati Vidhyalaya"
Beach Road
Next to Kozhikode Corporation Office
Kozhikode

Contact Persons :
9747389998, 9496163018

Web Link for joining online transmission:
https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/

Link to know corresponding time of your city/country: https://timeanddate.com/s/3gdw

Regards,
Kerala Collective

Wednesday, February 28, 2018


जय श्री माताजी 
होली की हार्दिक शुभ कामनाएं 
"हमेशा श्रीकृष्ण के आशीर्वाद से आप सभी को होली का आनंद लेना चाहिए लेकिन सबसे बड़ी होली अपने भीतर होती है जब आप अपने आप को सभी प्रकार के रंगों से भरते हैं। आपकी प्रकृति ऐसा होनी चाहिए कि सभी को आपके अंदर के उस रंग के आलोकिक आनंद की अनुभूति मिलनी चाहिए। वह रंग जो आपके भीतर है, सुंदरता का रंग – जो कृत्रिम नहीं है, दिखावा नहीं है, बस निर्वाज्य प्रेम देने वाला है। " – परम पूज्य श्री माताजी, 17-03-1984, होली पूजा, दिल्ली। 

प्रिय सहज योगी भाइयों और बहनों, कृपया शुक्रवार, 2 मार्च 2018 को ऑनलाइन ध्यान कार्यक्रम में सम्मिलित हों, सायंकाल 5 बजे से 8 बजे (भारतीय समय), वेबसाइट: https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/ 

श्री कृष्ण के होली के त्यौहार के उत्सव के शुभ अवसर पर आईये हम सब एक साथ ध्यान के ऑनलाइन कार्यक्रम में परम पूज्य श्री माताजी से प्रार्थना करें कि हमारे हृदय में उनके असीम प्रेम के रंगों से परिपूर्ण गंगा की धारा निरंतर बहे व उसका माधुर्य हम सभी को आत्मिक आनंद से पुलकित कर दे।

Jai Shri Mataji 
Happy Holi 

“Always with Shri Krishna's blessings you all should enjoy your Holi. But the greatest Holi is within yourself when you fill yourself with all kinds of colours. Your nature should be such that everybody should enjoy that colour. That colour that is within you, colour of beauty - not artificial, just showing of, just giving something without any love.” -- H.H.Shri Mataji, 17-03-1984, Talk on Holi day, Delhi, India. 

Dear Sahaja Yogi brothers and sisters of the whole world, 
Please do join online meditation on Friday, 2nd March 2018 , 5 pm to 8 pm (India Time), website : https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/ . To know corresponding time of your country/ city, please click on below link- https://timeanddate.com/s/3fn4 

On the auspicious occasion of celebration of Shri Krishna’s festival of Holi let us meditate together and pray to Param Pujya Shri Mataji to open up in our hearts, fountain of colours of HER Love and fragrance pulsating with Bliss of joy.