Visitor's Counter

Monday, December 25, 2017














Jai Shri Mataji!

Merry Christmas

Invitation to join global online meditation on the occasion of begining of New Year, 2018

Dear Sahaja Yogis brothers and sisters from all countries of the world,
Let us all rejoice together and make new year celebration something special by collectively meditating online at the Lotus Feet of Shri Adi Shakti Shri Mataji to seek HER Blessings for highest achievement of our universal ascent and growth of Sahaja Yoga in coming New Year, 2018 !

Date & Time :
31st December 2017, Sunday, 9 pm till 12 pm (India Time).
To know corresponding time in your country/city, Please click on this link: https://timeanddate.com/s/3dz6
Website address: https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/

'..At this state of thoughtless awareness you encompass the whole universe, and at that state, this power works wherever the problem may be. So we have to understand our value, that we have this power within ourself, and this is to be respected and to give credit to the Goddess because She's done so much work for us that She should not feel that it's now they got Realization just for a song and they are not bothered, they don't know how to develop it.
She will not be in any way hurt but Her work, what She has done, we have to see, we have to understand and we have to have a feeling that somehow, as we now have got enlightenment, we should try to be people as complete instruments of that power. That's only possible when you don't have your own ideas, your own interference. Complete instrument, just like as I said, this instrument has to be perfectly all right, otherwise it cannot work.
Thank you very much. May God bless you!..'
H.H. Shri Mataji, 1-10-1995, Navratri Puja, Cabella

जय श्री माताजी !

क्रिसमस की हार्दिक शुभ कामनाऐं

नवीन वर्ष 2018 के आगमन के उपलक्ष में ऑनलाइन ध्यान क़े कार्यक्रम का सस्नेह आमन्त्रण

विश्व के सभी देशों से प्रिय सहज योगी भाई और बहनों,
परम पूज्य श्री आदि शक्ति श्री माताजी के पावन श्री चरणों में आइए हम सभी हर्षोल्लास से ऑनलाइन सामूहिक ध्यान के साथ नवीन वर्ष 2018 के आगमन को महत्वपूर्ण बनाये व अपने उत्थान एवं सहज योग की विश्वव्यापी सर्वोच्च प्रगति के आशीर्वाद की कामना करें।
समय : 31 दिसंबर 2017, रविवार, 9 बजे रात्रि से 12 बजे रात्रि ( भारतीय समयानुसार)
वेबसाइट: https://atyourlotusfeetmother.blogspot.in/

'..इस निर्विचार चेतना की स्थिति में आप पूरे ब्रह्मांड को समेट लेते हैं, और उस स्थिति में, यह शक्ति जहां कहीं भी समस्या होती है वहाँ कार्यान्वित हो जाती है। तो हमें अपने मूल्य को समझना होगा, कि हमारे पास यह शक्ति हमारे भीतर है, और हमें इसका आदर करना चाहिए और देवी को इसका श्रेय देना चाहिए क्योंकि उन्होंने हमारे लिए इतना काम किया है कि उन्हें यह महसूस नहीं होना चाहिए कि मानव को आत्मसाक्षात्कार बिना किसी प्रयास के मिल गया है तो उसे इसकी कोई परवाह नहीं है और वह इसको विकसित करने के प्रति जागरूक नहीं है।
देवी को इससे किसी भी तरह से चोट नहीं पहुंचेगी, लेकिन उनका काम, जो उन्होंने कृपा की है, उसे हमें देखना होगा, हमें समझना होगा और हमारे अंदर ऐसी भावना होनी चाहिए कि किसी तरह, जैसे कि हमें अब ज्ञान प्राप्त हुआ है, हमें प्रयास करना चाहिये हम ऐसे व्यक्ति बनें जो उस शक्ति के सम्पूर्ण यंत्र हों। वह तभी संभव है जब आपके अपने मानसिक सुझाव नहीं हों, अपने ज्ञान का हस्तक्षेप न हो। सम्पूर्ण यंत्र, जैसे मैने बताया, इस यंत्र को बिल्कुल सही होना चाहिए, अन्यथा यह काम नहीं कर सकता है।
आपका बहुत बहुत धन्यवाद। परमात्मा आपको आशीर्वादित करें! ..'
परम पूज्य श्री माताजी, 1-10-95, नवरात्रि पूजा, कबेला