Visitor's Counter

You Tube

Sunday, February 3, 2019


जय श्री माताजी

आमंत्रण 

..लेकिन निर्विचार भी तुम्हारी माँ के आशीर्वाद को व्यक्त करने का एक तरीका है। जब वह आपको आशीर्वाद देना चाहती है, तो देखें कि आपने पत्र लिखा है, वो खुश थी बस आपको आशीर्वाद देने के लिए आप "निर्विचार" हो गए। यह आशीर्वाद है।  उस तरह से आप ... वह कृपा है, जो कि आप आपकी माँ के माध्यम से आप निर्विचार हो जाते हैं। उसको जानना है। यदि आप उन चीजों को करते हैं जो मैं आपको बताती हूं, मैं महसूस करती हूं, मैं आपको बहुत आशीर्वाद देती हूं। क्योंकि वे आपके "कल्याण"  के लिए, आपके "मंगल" के लिए हैं इसीलिए आप धन्य हैं और इसीलिए आप "निर्विचार" महसूस करते हैं क्योंकि मैं स्वयं निर्विचार हूँ ..."

~परम पूज्य श्री माताजी
(14 मार्च 1979, दिल्ली)

परम पूज्य श्री माताजी के पावन श्री कमल चरणों में नागपुर सहज परिवार द्वारा आयोजित ध्यान के सामुहिक कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए आप सभी को हार्दिक आमंत्रण है। कृपया आप इसमें अवश्य पधारें या ऑनलाइन प्रसारण के माध्यम से जुड़ें।

कार्यक्रम विवरण

तिथि: रविवार, 10 फरवरी 2019
समय:  10 बजे प्रातः से 
स्थान:  सहज योग ध्यान केंद्र, मुंडले सभागृह, समीप दीक्षा भूमि, साउथ अंबाजारी रोड, नागपुर, महाराष्ट्र।

इस कार्यक्रम के ऑनलाइन प्रसारण से जुड़ने के लिए लिंक: https://atyourlotusfeetmother.blogspot.com

पहुंचने के लिए गुगल मेप मार्गदर्शक लिंक:
Sahaj Yoga Centre
MA/15/1, S Ambazari Rd, Vasant Nagar, Nagpur, Maharashtra 440020

Tuesday, January 15, 2019



आमंत्रण 
श्री माताजी! आपके श्री चरणों में नत मस्तक सादर प्रणाम! 
परम पूज्य श्री माताजी की असीम कृपा से सभी सहज योगियों को हार्दिक आमंत्रण है कृपया फरीदाबाद, हरियाणा सामूहिकता द्वारा आयोजित सामूहिक ध्यान कार्यक्रम में सम्मिलित होकर या ऑनलाइन जुड़ कर परम पूज्य श्री आदि शक्ति श्री माताजी की सम्पूर्ण अभिभूत करने वाली प्रेम की धारा का आनंद प्राप्त करें।

तिथि: रविवार, 20 जनवरी 2019 
समय: 10 बजे प्रातः से 1 बजे दोपहर तक 
महाप्रसाद: 1:30 बजे दोपहर स्थान: सहज मंदिर, नाचोली गांव, ग्रेटर फरीदाबाद 

इस कार्यक्रम के ऑनलाइन प्रसारण से जुड़ने के लिए लिंक: https://atyourlotusfeetmother.blogspot.com

पहुंचने के लिए गुगल मेप मार्गदर्शक लिंक: SAHAJAYOGA MEDITATION CENTRE Unnamed Road, Neharpar Faridabad, Nacholi, Haryana 121002 078276 18262 https://maps.app.goo.gl/5Y3Wf 

श्री माताजी! आप हमारे सहस्त्रार के स्वर्ण सिंहासन पर विराज कर इसे सुशोभित करती हैं और हमारे सूक्ष्म तंत्र में उपस्थित सभी देवी देवताओं की आकाशगंगा पर राज्य करती हैं। हमारा सहस्त्रार आपका स्थान है और हम यहां अपने चित्त से आपकी पूजा करते हैं। आपने हमें "आपका चित्त कहाँ है?" का सबसे शक्तिशाली मंत्र दिया है हमारे बाह्य की ओर भटकने वाले चित्त को शुद्ध कर, आंतरिक हो कर आपके श्री चरण कमलों में समा कर, निर्विचारिता की स्थिति प्राप्ति का आनंद व आपके सर्वशक्तिमान आशीर्वाद का अमृत फल पाने के योग्य बन पाने के लिए। कृपया हमें आशीर्वाद दें कि हम सदैव एक शुद्ध चित्त, स्थिर चित्त, एकाग्र चित्त, समर्पित चित्त, भक्तिपूर्ण चित्त, प्रेम पूर्ण चित्त, करुणामय चित्त, आंतरिक चित्त से आपकी हमारे सहस्त्रार की देवी के रूप में पूजा करने में समर्थ बने रहें, श्री माताजी! 

जय श्री माताजी! 

Shri Mataji! YOU sit on the golden throne of our Sahastrar and rule the galaxy of all the deities present in our subtle system. Our Sahastrar is YOUR place and we worship YOU here with our attention. YOU have given us most powerful mantra of "Where is your attention?" to cleanse our outwardly attention and bring it inward to YOUR LOTUS FEET to enjoy YOUR all mighty blessing and bliss of achieving Thoughtless Awareness state. Please bless us that we are able to always have a pure attention, a steady attention, a detached attention, a dedicated attention, a devoted attention, a loving attention, a compassionate attention, an inward attention to worship YOU as the deity of our Sahastrar, Shri Mataji! 

Jai Shri Mataji!